नीतीश कुमार अफसरों को दे रहे थे नशाबंदी पर सीख, पुलिसवाले खेल रहे थे गेम

नशाबंधी पर रखे गए इस कार्यक्रम का उद्देश्य था कि लोगों को इसके प्रति जागरुक करना कि मादक वस्तुओं का गलत उपयोग न किया जाए और न ही इसका गैरकानूनी व्यापार किया जाए।

bihar-police-1-620x400

पटना: एक तरफ तो जहां बिहार के सुशासन बाबू नीतीश कुमार एक सेमिनार के दौरान लोगों को नशामुक्ति पर लेक्चर दे रहे थे। वहीं दूसरी ओर इस कार्यक्रम में उपस्थित दो उच्च पुलिस अधिकारी अपने फोन में कैंडी क्रश गेम खेलते हुए दिखाई दिए। दोनों अफसरों की यह फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है। बिहार को नशे से मुक्त कराने और लोगों को इसके प्रति जागरुक करने के लिए यह कार्यक्रम रखा गया था जिसमें नीतीश कुमार के अलावा सूबे के डीजीपी पीके ठाकुर भी मौजूद थे। इनके अलावा चीफ सेकेट्री अंजनी कुमार सिंह, गृह सचिव अमिर सुभानी भी इस सेमिनार में उपस्थित थे।

बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब कोई सरकारी अधिकारी किसी सरकारी कार्यक्रम के दौरान इस प्रकार की हरकत करता हुआ कैमरे में कैद किया गया है। इससे पहले भी कई अफसरों की ऐसी फोटो और वीडियो सामने आती रही हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार नशाबंदी पर रखे गए इस कार्यक्रम का उद्देश्य था कि लोगों को इसके प्रति जागरुक करना कि मादक वस्तुओं का गलत उपयोग न किया जाए और न ही इसका गैरकानूनी व्यापार किया जाए। यह देश और प्रदेश के लिए एक बहुत ही जरुरी मुद्दा है क्योंकि आए दिन देश में भारी मात्रा में एक राज्य से दूसरे राज्य तक मादक वस्तुओं को ले जाने का काम किया जाता है और आज की युवा पीढ़ी नशे से घिरती जा रही है।

पुलिस हेडक्वाटर में रखे गए इस महत्वपूर्ण सेमिनार के दौरान कैमरे में राज्य के दो आईपीएस अफसर अपने फोन का इस्तेमाल करते हुए दिखाई दे रहे हैं। एक अफसर अपने फोन में कैंडी क्रश गेम खेल रहा था तो वहीं दूसरा अफसर हाल ही में अमेरिकी दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में पढ़ रहा था। इस मामले के सामने आने के बाद दोनों अफसरों पर कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए जा चुके हैं।

Advertisements