हेमंत ने पत्नी के नाम खरीदी प्रॉपर्टी को चुनाव में छिपाया, विधायकी रद्द करे आयोग : भाजपा

hemantsoren+pti_022814075114
रांची: भाजपा ने झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन के परिवार पर अवैध तरीके से 100 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति बनाने का आरोप लगाया है। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष समीर उरांव और आदित्य साहू ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि महाजनी प्रथा के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले शिबू सोरेन के परिवार ने आदिवासियों को बेवकूफ बनाकर औने-पौने दामों में अकूत संपत्ति बनाई।
समीर उरांव ने कहा कि राज्य में शिबू सोरेन के पुत्र व पुत्रवधु के नाम कई जगह जमीन है। पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने वर्ष 2009 में पत्नी कल्पना मुर्मू के नाम पर हरमू इलाके में प्लाॅट खरीदा। इस पर सोहराय बैंक्वेट हॉल बना है। रांची के लालपुर इलाके में भी 13 हजार स्क्वायर फीट जमीन महज 4.16 लाख में खरीद ली, जिसका वास्तविक मूल्य करोड़ों में है। 2014 के विधानसभा चुनाव में दायर शपथ पत्र में उन्होंने पत्नी के नाम से खरीदी जमीन की जानकारी छिपा ली। इसलिए चुनाव आयोग को हेमंत सोरेन की विधायकी खत्म कर देनी चाहिए।
उरांव ने शपथ पत्र और राजू उरांव से कल्पना मुर्मू के नाम खरीदी गई जमीन के कागजात भी दिखाए। कहा-30 मार्च 2007 को हेमंत ने 16 अलग-अलग सेल डीड से 5.28 एकड़ जमीन खरीदी। भाजपा ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से क्यों नहीं की? इस सवाल पर कहा कि मीडिया के माध्यम से वे इसकी मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हेमंत ने शपथ पत्र में अपना पेशा कृषि बताया है और पत्नी के पैसे का ब्योरा नहीं है। उन्होंने पूरे परिवार से आय का स्रोत सार्वजनिक करने की मांग की।
भाजपा के आरोप पर हेमंत सोरेन ने कहा- भाजपा चरित्र हनन की राजनीति कर रही है। समय आने पर मजबूती से जवाब देंगे। उन्होंने कहा कि झामुमो और सोरेन परिवार पर जो साहूकार आरोप लगा रहे हैं, वे अपने गिरेबां में झांकें। अगर उन्होंने चुनाव के समय गलत शपथ पत्र दिया है या संपत्ति छिपाई है तो भाजपा को मीडिया में नहीं, चुनाव आयोग से शिकायत करनी चाहिए। जिन्होंने वर्षों से आदिवासी, दलित व पिछड़ों का शोषण किया, वहीं सवाल पूछ रहे हैं। भाजपा पेपर के कपड़े पहनकर क्या दिखाना चाहती है। भाजपा के लोगों को आदिवासी और मूलवासी ही जवाब देंगे।
Advertisements