स्थानीय प्रशासन और जनप्रतिनिधियों के अनदेखी से नाली के गंदे पानी से गुजरी नन्हे-नन्हे बच्चों की प्रभात फेरी।

vlcsnap-2017-08-16-09h32m07s447.png
थाना के बगल की सड़क में नाली का जलजमाव

बरहरवा: साहिबगंज जिले के बरहरवा प्रखंड में विभिन्न मौहल्लों की सड़कें गंदे पानी के जमाव एवं कीचड़ से भरी हुई हैं। स्वतंत्रता दिवस समारोह को ध्यान में रखते हुए विद्यार्थी परिषद द्वारा बरहरवा क्षेत्र के सड़कों पे गंदे जल के जमाव से स्वतंत्रता दिवस में निकलने वाली बच्चों की प्रभात फेरी में होने वाली समस्याओं के बारे में प्रखंड विकाश पदाधिकारी, बरहरवा एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को ज्ञयापन देकर आवगत कराया गया था। इसके बावजूद जनप्रतिनिधि एवं पदाधिकारी मौन साधे बैठे रहे। नन्हे नन्हे छात्र-छात्राओं की प्रभात फेरी सड़क पे जमे इन्ही गंदी नालियों की पानी से होकर गुजरने को विवश हो गयी।

बरहरवा थाना परिसर के बगल की सड़क मानो नाली में तब्दील हो चुकी है। लेकिन पुलिस प्रशासन ने भी सफाई करने की जिम्मेदारी नहीं उठाई, स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या से ही थाना परिसर LED बल्ब की झालरों से जगमगाता नज़र आया लेकिन ठीक उसके बगल की सड़क जिससे होकर कई स्कूलों की प्रभातफेरी गुजरती है, बदहाल हालात में रह गयी।

whatsapp-image-2017-08-16-at-09-29-261.jpeg
  नालियों के कीचड़ के बगल से गुजरती स्वतंत्रता दिवस की प्रभातफेरी

माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा सम्पूर्ण देश में चलाये जा रहे स्वच्छ भारत अभियान का स्थानीय प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा उलंघन बरहरवा क्षेत्र में  साफ साफ देखा जा सकता है। क्षेत्र की साफ सफाई और बेहतर व्यवस्था की जिम्मेदारी लेने से सभी पदाधिकारी कतराते ही नज़र आते रहे हैं।

अंचलाधिकारी श्री नरेश मुंडा कहते हैं कि उन्हें इनसब से कोई लेना देना है और न ही यहां की साफ सफाई उनके जिम्मे है।

WhatsApp Image 2017-08-16 at 09.29.53
बी०डी०ओ० को ज्ञापन सौंपते विद्यार्थी परिषद सदस्य

स्थानीय प्रशासन द्वारा जल जमाव एवं सड़क पे पड़ी गंदगी की समस्या का समाधान नहीं किये जाने पे नाराज़गी जताते हुए विश्वविद्यालय सीनेट सदस्य बैकुण्ठ बिहारी भगत ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा चलाई जा रही स्वच्छ भारत अभियान का बरहरवा स्थानीय प्रशासन पूरी तरह से उलंघन कर रही है, स्वच्छ्ता सिर्फ यहाँ के विभागीय कागजों तक ही है, धरातल पे नहीं। उन्होंने कहा कि अगर प्रशासन का ऐसा ही रवैया रहा तो विद्यार्थी परिषद बहुत जल्द सड़क पे उत्तर के आंदोलन करेगी। बैकुण्ठ भगत ये भी कहा कि इस आंदोलन में विद्यार्थी परिषद को उनका पूरा सहयोग रहेगा।

बरहरवा कॉलेज के विद्यार्थी परिषद के उपाध्यक्ष सोनू सिंह कहते हैं कि परिषद ने स्वतंत्रता दिवस के 3 दिन पूर्व ही ज्ञापन देकर प्रशासन को साफ सफाई के लिए आग्रह किया था, परंतु किसी ने भी इसपे संज्ञान नहीं लिया और स्थिती आज़ादी के पर्व के दिन भी वैसी ही बनी रही। अब परिषद किसी तरह की आग्रह नहीं कर आन्दोलन का रास्ता अपनाएगी।

Advertisements