आदिवासी संस्कृति का धरोहर है इस्को गांव में: अम्बा प्रसाद

Jhirir-mela-fairबड़कागांव: बड़कागांव प्रखंड के नापोखुर्द पंचायत स्थित इस्को गांव में 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के अवसर पर मेला का आयोजन किया गया। मेला का आयोजन चंदन समिति के तत्वधान में मड़वा द्वार पर आदिवासी संस्कृति कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। मेला के मुख्य अतिथि बड़कागांव विधायक निर्मला देवी एवं पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के सुपुत्री अंबा प्रसाद ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि इस्को गांव में आदिवासी संस्कृति का धरोहर है। सरकार द्वारा इस धरोहर को संयोजन की आवश्यकता है। अब इस गांव में पर्यटन का स्वरूप ले लिया है। इस पर्यटन स्थल से राजस्व में बढ़ोतरी होगी, बशर्ते सरकार इस धरोहर को विकसित करें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता अध्यक्ष दिनेश कुमार मुंडा ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से पंचायत समिति सदस्य प्रतिनिधि जगत नंदन प्रसाद गुप्ता, उप मुखिया फूल देवी, मुखिया प्रतिनिधि शीला देवी, विधायक प्रतिनिधि संजय कुमार, कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष विशेश्वर नाथ चौबे, निर्मल महतो, समिति के सचिव सानू कच्छप, कोषाध्यक्ष संतोष मुंडा, उपाध्यक्ष हरिनाथ मुंडा, उपसचिव हरि मंगल मुंडा, उप कोषाध्यक्ष सोहर मुंडा, सदस्य संजय मुंडा, जुलूस कच्छप, फागुन मुंडा, धनु मुंडा, प्रभु मुंडा, अमृत मुंडा, फुलचंद उराव, राजकुमार मुंडा, दशरथ मुंडा, पंकज मुंडा, संजय कच्छप, मनोज मुंडा, विजय राम, सुरेंद्र राम, राजू मुंडा, नागेश्वर मुंडा, कारू मुंडा, सुरेश मुंडा, शशि कश्यप, विष्णु मुंडा, परमेश्वर मुंडा, राजाराम मुंडा, महेंद्र मुंडा, सनी मुंडा, महावीर मुंडा, नागेश्वर मुंडा, भुवनेश्वर मुंडा सहित ग्रामीणों का सहयोग रहा। मेले में कार्यक्रम के अलावा आर्केस्ट्रा का भी आयोजन किया गया था।

Advertisements