जिला प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई में जब्त किया गया 61 बालू-गिट्टी लदा ट्रक

DSC_6619

दुमका: शनिवार को दुमका जिला प्रशासन के निर्देश पर चलाए गए अभियान में ओवर लोड और बिना वैध कागजात के 61 मालवाहक ट्रकों को पकड़ा गया है। पकड़े गए अधिकांश ट्रकों पर अवैध गिट्टी और बालू लदा हुआ है। डीसी मुकेश कुमार द्वारा गिट्टी और बालू के अवैध खनन पर रोक लगाने के लिए दिए गए निर्देश पर वाहनों की सघन चेकिंग की गई। 33 ट्रकों को जिला परिवहन पदाधिकारी विद्याभूषण ने दुमका-रामपुहरहाट सड़क पर रामपुर के पास पकड़ा है। ये सभी ट्रक बिहार जा रहे थे। वहीं प.बंगाल जा रहे गिट्टी लदे 5 ट्रकों को शिकारीपाड़ा में वहां के अंचलाधिकारी ने जब्त किया है। शिकारीपाड़ा में पिनरगडिया के पास जब्त ट्रकों पर बंगाल का नम्बर है। इधर अवैध गिट्टी-बालू लदे 23 ट्रकों को रानेश्वर में पकड़ा गया है। पकड़े गए मालवाहक ट्रकों में अधिकांश जहां ओवरलोडिंग है वहीं बालू और गिट्टी का या तो चलान नहीं है या चलान मेंं गड़बड़ी है। कई ट्रकों में जितने का चलान है उससे अधिक मात्रा में बालू या गिट्टी लदा हुआ पाया गया है। उपायुक्त मुकेश कुमार ने सभी अंचलाधिकारी को भी निर्देश दिया है कि अपने अपने क्षेत्र में सघन अभियान चलाकर इस तरह के वाहनों की जांच की जाए। जिला खनन पदाधिकारी और सम्बन्धित विभागों को ट्रकों के पकड़े जाने की सूचना देते हुए विभाग के स्तर से होने वाली कार्रवाई करने को कहा गया है।

बता दें कि दुमका जिला से होकर प्रति दिन करीब 200 की संख्या में बालू लोड ट्रक बिहार जाता है। अधिकांश ट्रकों पर बंगाल के बालू घाटों का चलान रहता है। दुमका जिला में पकड़े जाने पर अधिकतर ट्रकों पर केवल ओवरलोडिंग की कार्रवाई होती है। मयूराक्षी नदी के झारखंड में पड़ने वाले सीमावर्ती क्षेत्र के बालू घाटों पर बालू खनन पर रोक है। यह जांच का विषय है कि बंगाल से सटे झारखंड के बालू घाटों से बालू का खनन हो रहा है कि नहीं।

डीसी मुकेश कुमार ने कहा कि अवैध खनन और ओवरलोडेड वाहनों पर करवाई की जाएगी। किसी भी कीमत पर अवैध खनन तथा ओवरलोडिंग बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह अभियान आगे भी चलाया जाएगा।

Advertisements