एनजीटी के आदेश की अवहेलना कर साहेबगंज जिले में धड़ल्ले से हो रहा है बालू उत्खनन

साहेबगंज (झारखण्ड): नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने निर्देशानुसार 15 अक्टूबर तक सभी  से बालू उत्खनन पर रोक लगाया गया था, लेकिन इसके बावजूद भी एनजीटी के आदेश की अवहेलना करसाहेबगंज जिले में बालू उत्खनन धड़ल्ले से की जा रही है।

जिले के बरहेट और पतना प्रखंड में गुमानी नदी के कई अलग-अलग घाटों से प्रतिदिन सैकड़ों ट्रेक्टर बालू उत्खनन कर साहेबगंज, बरहरवा एवं उधवा के विभिन्न इलाकों में भेजा जाता है।
स्थानीय प्रशासन की मिलीभगत से जारी है बालू का अवैध कारोबार
रात के दो बजे से लेकर सुबह छः बजे तक बालू के अवैध कारोबार का खेल स्थानीय प्रशासन की संरक्षण में चलता है। बोरियो और बरहेट थाना के पेट्रोलिंग वाहन द्वारा बालू लदे ट्रेक्टर और ट्रकों से दो-दो सौ रुपये वसूली कर  गाड़ियों को साहेबगंज की ओर जाने दिया जाता है वहीं बरहरवा थाना द्वारा थाने से महज 50 मीटर दूर स्थित रेलवे फाटक के पास बालू लदे ट्रैक्टरों से पैसे वसूल किये जाते हैं।
Advertisements