हसडीहा में नकली डाबर कंपनी का खुलासा, 26 किलों गांजा भी बरामद, तस्कर गिरफ्तार

This slideshow requires JavaScript.

हंसडीहा (दुमका):  झारखण्ड के पड़ोसी राज्य बिहार की सीमा से लगे हंसडीहा थाना क्षेत्र में डाबर कंपनी के नाम से नकली गुलाब जल के गोरखधंधा का भंडाफोड़ होने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने गांजा के अवैध व्यापार का एक और ताजा तरीन मामला भी उजागर किया है।

बीते गुरुवार को पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि युसूफ अंसारी और उसके बेटे अजहर अंसारी गांजा का थोक और खुदरा व्यापार व्यापक पैमाने पर कर रहे हैं। इस सूचना के बुनियाद पर पुलिस ने बेहद ही गोपनीय तरीके से युसूफ अंसारी के घर छापामारी को अंजाम दिया जिसमें 26 किलो गांजा जप्त किया गया और युसूफ अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया। अपने कबूलनामा में यूसुफ ने भाई कयूम एवं बेटा अजहर के  गैरकानूनी व्यापार मे सहयोग की बात को स्वीकार किया, लेकिन पुलिस की पकड़ से युसूफ का बेटा अजहर अंसारी बच निकला। अजहर की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की खोजी टीम अलग-अलग ठिकानों पर दबिश दे रही है।

उल्लेखनीय है कि बीते 19 तारीख को यूसुफ के भाई कयूम अंसारी को डाबर कंपनी का मिलावटी गुलाब जल बनाने एवं नकली गुलाब जल का जखीरा रखने के आरोप में सलाखों के पीछे पहुंचा दिया गया है। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अनिमेष नैथानी के अनुसार कयूम अंसारी इस अवैध कारोबार का प्रमुख फाइनेंसर है जबकि उसका भाई युसूफ अंसारी ने अवैध सामग्री को सुरक्षित रखने के लिए अपने घर को गोदाम बना रखा था।

मामले की गंभीरता को देखते हुए कयूम अंसारी को रिमांड पर लेने की तैयारी की जा रही है। मादक पदार्थों से संबंधित मामला होने के कारण ड्रग्स एंड नारकोटिक्स एक्ट के प्रावधानों के अनुरूप आरोप निर्धारित किया जाएगा।

 

संवाददाता: प्रवीण कुमार, हंसडीहा, दुमका

Advertisements