शिक्षा से कोसों दूर यहां के विद्यार्थी,जानें पूरी कहानी

whatsapp-image-2018-10-09-at-17-30-05.jpeg

कांडी (गढ़वा): जैसा कि कहा जाता है कि बच्चे ही हमारे देश के भविष्य हैं, किंतु यहां तो बच्चों के भविष्य के साथ ही खिलवाड़ हो रहा है।

बताते चलें कि कांडी प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत पतहरिया में अवस्थित नव प्राथमिक विद्यालय चौखड़ी में 130 विद्यार्थिं हैं, जबकि इस विद्यालय में केवल एक ही शिक्षक अशोक राम हैं। अब यह समझा जा सकता है कि बच्चों के भविष्य के साथ क्या हो रहा है?

शिक्षा स्तर में सुधार लाने व शिक्षकों की संख्या बढ़ाने की मांग को लेकर सभी विद्यार्थियों ने पंचायत की मुखिया रिंकी देवी का घेराव किया। घेराव में विद्यार्थियों ने मुखिया रिंकी देवी से कहा कि केवल ही शिक्षक द्वारा विद्यालय पिछले एक-डेढ़ महीने से चल रहा है। जल्द से जल्द विद्यालय में और शिक्षकों की नियुक्ति की जाये।

मुखिया प्रतिनिधि मनोज कुमार चंचल ने जानकारी देते हुए बताया कि इससे पूर्व इस विद्यालय में दो शिक्षक थे, जबकि कुल तीन शिक्षकों की आवश्यता थी। तीन शिक्षक तो दूर अब यहां केवल एक शिक्षक बच गए हैं। साथ ही मनोज कुमार चंचल ने यह भी बताया कि शिक्षकों की संख्या बढ़ाने को लेकर बीआरसी में भी शिकायत की गई। बीआरसी में बताया गया कि इसके संबंध में सोंचा जाएगा,परन्तु अभी तक इस विद्यालय में शिक्षकों की संख्या नहीं बढ़ाई गई। एक शिक्षक को 130 विद्यार्थियों को उठाने-बैठाने में ही पूरा समय व्यतीत हो जाएगा तो बच्चों की पढ़ाई-लिखाई का क्या होगा?

बच्चों की शिक्षा की समस्या को गंभीरता से लेते हुए रिंकी देवी ने आश्वाशन दिया की शीघ्र ही समस्या के निदान के लिए बीईओ को आवेदन भेजूंगी।

संवाददाता: विवेक चौबे, गढ़वा, झारखण्ड 

 

Advertisements