सिंगापुर के रक्षा मंत्री ने सिम्बेाक्सं 18 के दौरान नौसैनिक अभ्यादस देखा

PIC__7_UPKR

सिंगापुर गणराज्‍य के रक्षा मंत्री डॉ. न्‍ग इंग हेन ने बंगाल की खाड़ी में जारी  25वें सिंगापुर-भारत समुद्री द्विपक्षीय अभ्‍यास (सिमबेक्स 18) के दौरान आज 20 नवंबर 2018 को समुद्र में दोनों देशों के नौसेनाओं की संयुक्‍त कार्रवाई का करीबी निरीक्षण किया। भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने सिंगापुर गणराज्‍य के नौसेना प्रमुख रियल एडमिरल ल्‍यू चुएन होंग और माननीय रक्षामंत्री के साथ मौजूद दोनों देशों के रक्षा मंत्रालयों के अधिकारियों की मेजबानी की।

भारतीय नौसेना के प्रमुख जहाज आईएनएस शक्ति पर आगमन के बाद डॉ. हेन को अभ्‍यासों- पूरा हो चुके और जारी- की जानकारी दी गई। इस दौरान रक्षा मंत्री के पास दोनों देशों के नौसेनाओं के जहाजों द्वारा हवाई लक्ष्‍यों पर सफलतापूर्वक मिसाइल साधने, एंटी-सबमैरीन वारफेयर (एएसडब्ल्यू) रॉकेट फायरिंग, मीडियम कैलिबर गन साधने, उड़ान परिचालन और जहाजों एवं भारतीय नौसेना के हॉक लड़ाकू विमानों को देखने का अवसर था। दोनों देशों के बीच करीबी दोस्‍ती का जबरदस्‍त संकेत देते हुए माननीय रक्षा मंत्री ने प्रमुख जहाज आईएनएस शक्ति पर जहाजों और विमानों की सलामी ली। दोनों देशों के बीच अभ्‍यास और द्विपक्षीय संबंधों के महत्‍व का अंदाजा सिंगापुर के रक्षा मंत्री और दोनों देशों के गणमान्‍य लोगों की हाई प्रोफाइल उपस्थिति से ही लगाया जा सकता है। गौरतलब है कि सिम्‍बेक्‍स 18 इस प्रकार का सबसे बड़ा अभ्‍यास है जो 1994 में शुरू होने के बाद निर्बाध रूप से प्रगति कर रहा है।

Advertisements