Search
Close this search box.

रामनवमी में सुरक्षा को लेकर पुलिस अलर्ट, 13 हजार से ज्यादा जवानों को जिम्मेदारी

रांची: रामनवमी को लेकर झारखंड पुलिस की तरफ से सुरक्षा को लेकर कड़ी तैयारी चल रही है. सभी थानों को अभी से अलर्ट कर दिया गया है, यहां पर 15-20 अतिरिक्त जवान भेजे गए हैं. कल सुबह से राजधानी में साढ़े तीन हजार पुलिसकर्मियों को लोगों की सुरक्षा में तैनात किया जाएगा. मेनरोड और डोरंडा में सीआरपीएफ के जवानों की भी तैनाती रहेगी. अभी सीआरपीएफ की टीम रांची नहीं पहुंची है. शहर की सुरक्षा में रैप की दो कंपनी और जैप के जवान भी विभिन्न जगहों पर सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालेंगे. एसएसपी कौशल किशोर खुद पूरी सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग कर रहे हैं और संबंधित पुलिस पदाधिकारियों को दिशा निर्देश दे रहे हैं. सभी थाना प्रभारियों को अपने अपने क्षेत्र में पीसीआर और पेट्रोलिंग गाड़ी और भी भ्रमण कर लोगों पर नजर रखने को कहा गया है.

सीसीटीवी कैमरों से 24 घंटे निरगानी

रामनवमी के साथ रमजान का भी महीना चल रहा है, ऐसे में सुरक्षा में कोई चूक नहा हो इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा है. सोशल मीडिया पर पुलिस की विशेष नजर है, भड़काऊ पोस्ट और अफवाह फैलानों वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. शहर में लगे सीसीटीवी कैमरे कई जगहों पर खराब हो गए ते. जिन्हे ठीक करा लिया गया है. 250 जगहों की पहचान कर और कैमरे लगाए गए हैं. सीसीटीवी से मॉनिटरिंग को लेकर कंट्रोल रुम में एक टीम 24 घंटे तैनात रहेगी, निगरानी करेगी, कहीं भी कुछ गड़बड़ी दिखने पर तुरंत इसकी सूचना संबंधित थाने को दी जाएगी.

रांची और हजारीबाग पर विशेष फोकस

वहीं राज्य भर में 13 हजार से अधिक जवानों को तैनाती की गयी है।.जिन जगहों पर सबसे ज्यादा सुरक्षा कर्मी तैनात किए गये हैं उनमें हजारीबाग और रांची शामिल हैं. स्पेशल ब्रांच ने राज्य के सभी एसपी को अलर्ट किया है. राज्य में किसी तरह की हिंसा ना फैले और ना ही किसी को किसी भी तरह की परेशानी हो, इसकी पूरी कोशिश सुरक्षा में तैनात जवान करेंगे. रामनवमी की शोभायात्रा के दौरान सुरक्षा के दृष्टिकोण से पुलिस मुख्यालय ने पूरी तैयारी कर ली है. एटीएस से लेकर जिला पुलिस और सीआरपीएफ के 13 हजार से अधिक फोर्स सभी जिलों को उपलब्ध कराया गया है. सभी रेंज डीआइजी को भी अलग से 150-150 समेत कुल 1100 सशस्त्र बल और लाठी बल उपलब्ध कराया गया है. पुलिस मुख्यालय से भी सभी जिलों के शोभायात्रा पर पैनी नजर रखी जायेगी. यहीं से विधि-व्यवस्था की मॉनिटरिंग भी होगी. इसके लिए एक डीआइजी, तीन एसपी, तीन डीएसपी और तीन इंस्पेक्टर को तैनात किया गया है.

ये भी पढ़ें: हेमंत कैबिनेट की बैठक आज, नियुक्ति नियमावलियों में होगा संशोधन