Search
Close this search box.

अश्लील वीडियो वायरल मामला: आज शाम 4 बजे मंत्री बन्ना गुप्ता करेंगे पीसी

रांची: फोन पर कथित अश्लील वीडियो चैट वायरल होने के बाद आज पहली बार सूबे के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मीडिया के सामने आएंगे. रांची के डोरंडा स्थित सरकारी आवास पर शाम 4 बजे बन्ना गुप्ता एक महत्वपूर्ण प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं. बता दें इस वीडियो के वायरल होने के बाद बीजेपी और सरयू राय लगातार बन्ना गुप्ता पर निशाना साध रहे हैं. उन्हें मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर कार्रवाई की मांग हो रही है. हालांकि बन्ना गुप्ता ने वीडियो के वायरल होने के बाद प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सफाई दी थी.

वीडियो कॉल वाली महिला भी आई सामने

इधर महिला भी सामने आई है जो वीडियो कॉल में दिख रही है. महिला का कहना है कि वो स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता का नाम तक नहीं जानती. वीडियो एडिटिंग, छेड़छाड़ कर इसे जोड़ा गया. महिला ने कहा कि वो अपने पति के साथ चैट कर रही थी. अब मुझे इस एडिटेड वीडियो के जरिये बदनाम किया जा रहा है. महिला ने कहा की उसके तीन छोटे बच्चे हैं, अब इस तरह के वीडियो से पूरे घर वालों का बुरा हाल है ये किसी सदमा से कम नहीं. उन्होंने प्रशासन से इस वीडियो को सोशल मीडिया से डिलीट करने और मामले की जांच करने की मांग की है.

NSUI नेता भी दे चुकी हैं सफाई

इस से पहले एनएसयूआई कि नेता आरुषी वंदना ने रांची में एक पीसी की थी. और कहा थी जो वीडियो वायरल हो रहा है उसे उनके साथ जोड़ा जा रहा है, जबकि वो उनका है ही नहीं. एक राजनीतिक दल से जुड़ी रहने की वजह से उन्हें मंत्री- विधायक से मिलना रहता है. लेकिन इसका मतलब यह नहीं के किसी के साथ गलत संबंध हो. उन्होंने कहा की स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मेरे भाई की तरह है, और राजनीतिक विद्वेष से कुछ लोग फर्जी वीडियो बनाकर बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. इसको लेकर शिकायत दर्ज करा दी गई है.

आलाकमान ले सकता है बड़ा फैसला !

बन्ना गुप्ता का ये वायरल वीडियो प्रकरण कांग्रेस आलाकमान तक भी पहुंच गया है. और इसमें बड़ा फैसला लिया जा सकता है. कर्नाटक चुनाव के कारण कांग्रेस अध्यक्ष मलिकार्जुन खड़गे व्यस्त हैं. पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल मामले से अवगत हैं. ऐसे में खड़गे के फ्री होते ही झारखंड पार्टी प्रभारी अविनाश पांडेय के साथ तीनों की बातचीत होगी और फिर पार्टी मामले में कोई निर्णय ले सकती हैं.

ये भी पढ़ें: जमीन फर्जीवाड़े में ईडी की ताबड़तोड़ छापेमारी, ठेकेदार को पहले ही लग गई खबर, फ्लैट खाली कर गायब