ईडी के गवाह और पत्थर कारोबारी प्रकाश चंद्र की तबीयत बिगड़ी, कड़ी सुरक्षा में भेजा गया रिम्स

साहिबगंज: पत्थर कारोबारी और ईडी के गवाह प्रकाश चंद्र यादव उर्फ मुंगेरी यादव की गुरुवार को तबीयत बिगड़ गई. जिसके बाद उसे साहिबगंज मंडल कारा से कड़ी सुरक्षा में रिम्स रांची भेजा गया. शाम करीब 6 बजे दंडाधिकारी और पर्याप्त संख्या में पुलिस जवानों की सुरक्षा में एंबुलेंस से रांची भेजा गया. प्रकाश चंद्र यादव एक हजार करोड़ के कथित अवैध खनन मामले में ईडी का प्रमुख गवाह है. बताया जाता है कि प्रकाशचंद्र यादव की पिछले तीन दिनों से तबीयत काफी खराब चल रही ती. उसका डायबिटीज लेवल 6 सौ के पास चला गया था. जो कंट्रोल ही नहीं हो रहा था. नाजुक स्थिति को देखते हुए कारा प्रबंधन के गठित मेडिकल बोर्ड ने उसे बेहतर इलाज के लिए पहले दुमका स्थित फूलो झानो मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराने का निर्णय लिया. लेकिन बाद में मेडिकल बोर्ड और कारा प्रबंधन ने उसे रांची रिम्स भेजने का निर्णय लिया.  बीते 29 जुलाई 2022 को साहिबगंज पुलिस ने आर्म्स एक्ट में रांची एयरपोर्ट के पास से गिरफ्तार किया था. प्रकाशचंद्र यादव पर सीसी एक्ट लगा हुआ है, इस वजह से वो अभी जेल में बंद है.

ये भी पढ़ें: डॉन अबू सलेम का भतीजा आरिफ गिरफ्तार, यूपी पुलिस ने मुंबई से धर दबोचा

You May Like This